Planet News India

Latest News in Hindi

PM Gujarat Visit: वलीनाथ धाम मंदिर के प्राण प्रतिष्ठा में शामिल हुए पीएम, कहा- आज देव काज हो या देश काज..

1 min read


पीएम मोदी ने कहा कि सैंकड़ों वर्ष पुराना ये मंदिर आज 21वीं सदी की भव्यता और पुरातन दिव्यता के साथ तैयार हुआ है। ये मंदिर सैंकड़ों शिल्पकारों, श्रमजीवियों के वर्षों के अथक परिश्रम का भी परिणाम है
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी आज से 24 फरवरी तक गुजरात के दौरे पर रहेंगे। वह आज सुबह ही अहमदाबाद पहुंच गए थे, जहां उन्होंने गुजरात सहकारी दूध विपणन महासंघ का स्वर्ण जयंती समारोह में भाग लिया। दोपहर में वह मेहसाणा पहुंचे, जहां उन्होंने वलीनाथ महादेव मंदिर में पूजा-अर्चना की।

पीएम मोदी ने सबसे पहले मेहसाणा में रोड शो किया। उसके बाद ‘प्राण प्रतिष्ठा’ समारोह में भाग लेने के लिए विसनगर तालुक में वलीनाथ धाम मंदिर पहुंचे जहां ‘देव काज’ हो या ‘देश काज’
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी मेहसाणा के वलीनाथ धाम मंदिर में ‘प्राण प्रतिष्ठा’ समारोह में शामिल हुए। इस दौरान उन्होंने जनसभा को संबोधित किया। उन्होंने कहा, ‘देश के विकास का यह अनोखा दौर है, जहां ‘देव काज’ हो या ‘देश काज’ दोनों तेजी से हो रहे हैं।
उन्होंने कहा, ‘आज से ठीक एक महीने पहले 22 जनवरी को मैं अयोध्या में प्रभु राम के चरणों में था। वहां मुझे प्रभु रामलला के विग्रह की प्राण प्रतिष्ठा के ऐतिहासिक आयोजन में शामिल होने का सौभाग्य मिला।उसके बाद 14 फरवरी (वसंत पंचमी) को अबु धाबी में खादी देशों के पहले हिंदू मंदिर के लोकार्पण का मुझे अवसर मिला। अभी 2-3 दिन पहले मुझे उत्तर प्रदेश के संभल में कल्कि धाम के शिलान्यास का भी मौका मिला। अब आज मुझे यहां तरभ में इस भव्य, दिव्य मंदिर में प्राण प्रतिष्ठा के बाद पूजा करने का सौभाग्य प्राप्त हुआ है। भारत की विकास यात्रा में ये एक अद्भुत कालखंड है।’

उन्होंने आगे कहा कि ये एक ऐसा समय है, जब देवकाज हो या फिर देश काज, दोनों तेज गति से हो रहे हैं। देवसेवा भी हो रही है और देशसेवा भी हो रही है। आज मैं इस पवित्र धरती पर एक दिव्य ऊर्जा महसूस कर रहा हूं। ये ऊर्जा हजारों वर्ष से चली आ रही उस आध्यात्मिक चेतना से हमें जोड़ती है, जिसका संबंध भगवान कृष्ण से भी है और महादेव से भी है।

ये हमारी हजारों वर्ष पुरानी संस्कृति और परंपरा के प्रतीक
पीएम मोदी ने कहा कि सैंकड़ों वर्ष पुराना ये मंदिर आज 21वीं सदी की भव्यता और पुरातन दिव्यता के साथ तैयार हुआ है। ये मंदिर सैंकड़ों शिल्पकारों, श्रमजीवियों के वर्षों के अथक परिश्रम का भी परिणाम है। हमारे यहां मंदिर सिर्फ देवालय या पूजा पाठ करने की जगह नहीं, बल्कि ये हमारी हजारों वर्ष पुरानी संस्कृति और परंपरा के प्रतीक हैं। हमारे यहां मंदिर देश और समाज को अज्ञान से ज्ञान की तरफ ले जाने के माध्यम रहे हैं।

उन्होंने कहा कि आज देश सबका साथ, सबका विकास के मंत्र पर चल रहा है। ये भावना हमारे देश में कैसे रची-बसी है, इसके दर्शन भी हमें वालीनाथ धाम में होते हैं। मोदी की गारंटी का लक्ष्य, समाज के अंतिम पायदान पर खड़े देशवासी का भी जीवन बदलना है। इसलिए एक तरफ देश में देवालय भी बन रहे हैं और करोड़ों गरीबों के पक्के घर भी बन रहे हैं।

यह है शेड्यूल
प्रधानमंत्री कार्यालय ने बुधवार को बताया था कि वह इस दौरान 48 हजार करोड़ रुपये से अधिक की विकास परियोजनाओं का उद्घाटन और शिलान्यास करेंगे। पीएम मेहसाणा के तरभ में जनसभा में 8,350 करोड़ की विकास परियोजनाओं का शिलान्यास और लोकार्पण करेंगे। इसके बाद शाम को नवसारी में 17,500 करोड़ के विकास कार्यों का शिलान्यास और लोकार्पण करेंगे। 25 फरवरी को पीएम सिग्नेचर ब्रिज का उद्घाटन करने के साथ करोड़ों की योजनाओं की सौगात देंगे।

26 को 550 अमृत भारत स्टेशनों की रखेंगे आधारशिला
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी 26 फरवरी को 550 अमृत भारत स्टेशनों की आधारशिला रखेंगे। इन पर करीब 40,000 करोड़ की लागत से रूफ प्लाजा व सिटी सेंटर विकसित किए जाएंगे।  अधिकारियों ने बुधवार को बताया कि पीएम एक समारोह के दौरान विभिन्न राज्यों में सड़कों पर लगभग 1,500 ओवरब्रिज और अंडरब्रिज की आधारशिला भी रखेंगे। प्रधानमंत्री वीडियो कांफ्रेंस के जरिये समारोह में शामिल होंगे। समारोह में विभिन्न प्रतियोगिता के विजेता करीब 50,000 छात्रों को पुरस्कृत करेंगे।

planetnewsindia
Author: planetnewsindia

8006478914,8882338317

About The Author

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *