Planet News India

Latest News in Hindi

गौर बिल्डर की मनमानी तानाशाह बिल्डर रजिस्ट्री अब तक नहीं हुई फिर भी बात करने को तैयार नहीं

1 min read

गौर बिल्डर की मनमानी तानाशाह रजिस्ट्री अब तक नहीं हुई फिर भी बात करने को तैयार नहीं

गौर बिल्डर की मनमानी फ्लैट लेते समय बिल्डर ने तमाम झूठे वादे किए रजिस्ट्री अब तक नहीं हुई बिना ओसीसीसी लिए बिना दिए हैंडोवर रहवासी परेशान

बिल्डर की नीतियों के खिलाफ धरने पर बैठे निवासी
आनंद राजपूत ,सोनू यादव ,प्रदुम सिंह , डॉक्टर मोहित, मनोज नागर,उपेंद्र सिंह,

गौर बिल्डर करवाना चाहता है एओए का गठन, लेकिन

सोसायटी के निवासी आनंद राजपूत का कहना है बिल्डर जबरदस्ती एओए का गठन करना चाहता है। जबकि सोसाइटी के निवासी इसका विरोध कर रहे हैं। इसका मुख्य कारण यह है कि गौर बिल्डर के द्वारा अभी तक मूलभूत सुविधाएं नहीं दी गई हैं। सोसाइटी के भीतर काफी समस्याएं हैं। बिल्डर ने जो सपने दिखाते हुए लोगों को फ्लैट बेचे हैं उनको पूरा नहीं किया गया। ऐसे में निवासी एओए का गठन नहीं करवा सकते।

 

  1. L,E,F,G,H Tower की रजिस्टरी बिल्डर नहीं करावा रहा है.
  2. सेंट्रल पार्क एवं अन्य जगहों पर कोई ग्रीनरी नहीं है केवल और केवल धूल, मिट्टी और कीचड़ ही दिखता है। ऐसा लगता है जैसे कि हम किसी कंस्ट्रक्शन साईट पे रह रहे हों।
  3. काफ़ी प्रयासों के बाद kids play area की matting हो पायी लेकिन ये एरिया रेज़ीडेंट्स की संख्या को देखते हुए नाकाफ़ी है
  4. बिल्डर द्वारा offered टेनिस कोर्ट, बास्केटबॉल कोर्ट, कम्यूनिटी सेंटर केवल पेपर पर ही है। सच्चाई ये है कि इसका दूर दूर तक कोई नामो निसान नहीं है।
  5. L tower के बग़ल वाला थर्ड एग्जिट गेट अभी तक नहीं खुला है। एक टिन का टेम्पररी गेट लगा रखा है जैसे की अभी भी कंस्ट्रक्शन हो रहा हो। सिक्योरिटी के लिहाज़ से इस गेट का खुलना अत्यंत आवश्यक है क्यों की फायर इमरजेंसी के केस में फायर ब्रिगेड केवल इसी गेट से आ सकती है।
  6. सिक्योरिटी की दशा बहुत ही विकट है यहाँ। किसी भी लिफ्ट में सेफ्टी वेरिफिकेशन सर्टिफिकेट नहीं लगा है। फायर इक्विपमेंट्स के टेस्टिंग इत्यादि का कोई अता पता नहीं है जिससे कभी भी बड़ी दुर्घटना हो सकती है .
  7. stray dogs पे यहाँ की सिक्योरिटी क़ाबू नहीं पा पायी है ये 32nd floor तक बेरोकटोक घूमते हैं और रेज़ीडेंट्स का समान नुक़सान करते हैं और गंदगी अलग से फैलाते हैं।
  8. बेसमेंट्स में समुचित लाईट और सीसीटीवी कैमरों की कमी है जिस वजह से पेट्रोल चोरी, बाइक चोरी, और वाहनों को क्षतिग्रस्त करना तो आम बात है
  9. सिक्यॉरिटी गॉर्डस को एक्स्ट्रा वर्किंग ऑवर काम करना पड़ता है जिसे वो ठीक से ड्यूटी नहीं करते और अक्सर सोये हुए पाये जाते हैं .
  10. G से I tower का रास्ता अभी तक नहीं बना है जिसकी वजह से सभी लोगों को काफ़ी परेशानी होती है.
  11. लोगो से पुरा पैसा लेने के एक साल के बाद भी फ़्लैट हैंडओवर नही किया जा रहा है.
  12. विजिटर पार्किंग की कोई सुविधा नहीं है और अगर वो सोसाइटी के बाहर पार्क करते हैं तो उनसे पार्किंग चार्ज लिया जा रहा है बिल्डर के द्वारा.
  13. पार्किंग का पैसा लेने के बाद भी रेज़िडेंस को उनकी पॉर्किंग सालो बाद भी नहीं दी गई है . बिल्डर ने कुछ पार्किंग में तो वेयरहाउस बना रखा है.

 

planetnewsindia
Author: planetnewsindia

8006478914,8882338317

About The Author

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *