Planet News India

Latest News in Hindi

World Poetry Day 2024: भारत की मशहूर कवयित्रियां, जिनका साहित्य में रहा विशेष योगदान

1 min read

World Poetry Day 2024: भारत की मशहूर कवयित्रियां, जिनका साहित्य में रहा विशेष योगदान

भारत की महिला कवयित्रियों ने साहित्य की विविधता में अपना महत्वपूर्ण स्थान बनाया। विश्व कविता दिवस के मौके पर भारत की प्रमुख महिला कवयित्रियों के बारे में जानिए।

World Poetry Day 2024 Famous Indian Female Poets and Their Contribution in Literature
Female Poet

World Poetry Day 2024 Famous Indian Female Poets: आज यानी 21 मार्च को विश्व कविता दिवस मनाया जा रहा है। कविताएं भावनाओं की अभिव्यक्ति का खूबसूरत और प्रभावी जरिया है। कविताएं मानवीय अनुभवों, भावनाओं और विचारों को अद्वितीय ढंग से व्यक्त करने का एक महत्वपूर्ण माध्यम है। यह एक साहित्यिक रूप है, जिसमें भाषा की सुंदरता और शब्दों की माहिरी का उपयोग होता है। विश्व कविता दिवस मनाने का मुख्य उद्देश्य लोगों को कविता के महत्व के बारे में जागरूक करना और इसकी प्रशंसा करना है। भारत की महिला कवयित्रियों ने साहित्य की विविधता में अपना महत्वपूर्ण स्थान बनाया। विश्व कविता दिवस के मौके पर भारत की प्रमुख महिला कवयित्रियों के बारे में जानिए।

महादेवी वर्मा

महादेवी वर्मा एक स्वतंत्रता संग्राम सेनानी और कुशल कवियत्री थीं। उन्हें छायावादी युग के चार प्रमुख कवियों में से एक माना जाता है। महादेवी वर्मा ने हिंदी साहित्य के अनेक आधुनिक कविता संग्रहों की रचना की है। उनकी कविताएं स्त्री शक्ति, सामाजिक न्याय, और स्वतंत्रता के मुद्दों पर आधारित हैं। महादेवी का जन्म उत्तर प्रदेश के फर्रुखाबाद जिले में हुआ था। साहित्य में उनके उत्कृष्ट योगदान के लिए पद्म विभूषण, साहित्य अकादमी फेलोशिप समेत कई सम्मानों से नवाजा जा चुका है।

सरोजिनी नायडू

सरोजिनी नायडू को नाइटिंगेल ऑफ इंडिया के नाम से जाना जाता है। वह स्वतंत्रता सेनानी के साथ ही प्रतिष्ठित कवयित्री भी थीं। साथ ही भारत की पहली महिला राज्यपाल बनीं। उनका जन्म हैदराबाद में हुआ था। उनकी कविताएं राष्ट्रीय भावनाओं, स्वतंत्रता के लिए लड़ाई, और महिला सशक्तिकरण के मुद्दों पर आधारित हैं।

सरोजिनी नायडू की कविताओं में स्वतंत्रता संग्राम की ऊर्जा, महिलाओं के अधिकारों की प्राथमिकता, और सामाजिक न्याय के मुद्दों पर उनका जोरदार विचार उजागर किया गया है। उनकी प्रमुख रचनाओं में “अ गोल्डेन थ्रेशोल्ड” और “ द फेदर ऑफ डॉन” है।

 

World Poetry Day 2024 Famous Indian Female Poets and Their Contribution in Literature
अमृता प्रीतम
मीरा बाई

सोलहवीं सदी की हिंदी कवयित्री मीराबाई की रचनाएँ आज भी चर्चित हैं। वो भक्तिकाल की सबसे चर्चित कवयित्री थीं, और श्रीकृष्ण की की परम भक्त थीं। उनके पदों में कृष्ण भक्ति की झलकती थी। मीराबाई का जन्म राजस्थान के पाली में हुआ था।

सुभद्रा कुमारी चौहान

भारत की सबसे लोकप्रिय कवयित्रियों में से एक सुभद्रा कुमारी चौहान हैं। उनकी कविता ‘झांसी की रानी’ बच्चे बच्चे को मुंह जुबानी याद रहती है। सुभद्रा कुमारी की कविताएं वीर रस की हैं। अंग्रेजों के खिलाफ उन्होंने अपनी लेखनी और कविताओं के जरिए आवाज बुलंद की, जिस कारण उन्हें कई बार जेल भी जान पड़ा। उनका जन्म निहालपुर गांव में हुआ था।

अमृता प्रीतम

अमृता प्रीतम एक उत्कृष्ट उर्दू और पंजाबी भाषा की लेखिका थीं। उनकी कविताओं में प्रेम, विरह और महिला अधिकारों के मुद्दे उजागर किए गए हैं। पंजाब के गुजरनवाला में जन्मी अमृता प्रीतम ने अपने करियर में 100 से ज्यादा किताबें और कविताएं लिखीं। उन्हें साहित्य अकादमी पुरस्कार से सम्मानित किया जा चुका है।

planetnewsindia
Author: planetnewsindia

8006478914,8882338317

About The Author

More Stories

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *